कला के जरिए चरमपंथ से मुकाबला

कराची - पाकिस्तान में सामाजिक कार्यकर्ता गौहर आफताब का एनजीओ एक अलग अंदाज में हिंसा को मात देने की कोशिशों में जुटा है। उन्हें उम्मीद है कि कला के जरिए चरमपंथ से मुकाबला किया जा सकता है। इस कार्यक्रम के तहत संगठन के कार्यकर्ता देशभर के शहरों में अपार्टमेंट कॉम्पलेक्स और दफ्तरों की दीवारों पर पेंटिंग कर रहे हैं। सरकार से इसकी इजाजत ली है। वे स्कूलों में बच्चों के लिए ऐसी कॉमिक बुक भी बांट रहे हैं, जिनमें चरमपंथ से दूर रहने का संदेश दिया गया है। इनका मकसद आने वाली युवा पीढ़ी को हिंसा के मार्ग पर जाने से रोकना है।